यूपी के देवरिया में खूनी संघर्ष में छह की मौत, गांव में तनाव का माहौल

— घटना को लेकर पुलिस छावनी में तब्दील हुआ फतेहपुर गांव,पीएसी तैनात
देवरिया। उत्तर प्रदेश के देवरिया जिले में सोमवार की सुबह खूनी संघर्ष में छह लोगों की हत्या हो गई। रुद्रपुर थाना क्षेत्र के फतेहपुर गांव में भूमि विवाद को लेकर घटना को अंजाम दिया गया। मरने वालों में पांच लोग एक ही परिवार के शामिल हैं। एक युवक घायल है जिसे मेडिकल कॉलेज में भर्ती कराया गया है। जानकारी होने पर मौके पर कमिश्नर गोरखपुर के अलावा डीएम और एसपी पहुंच गए। गांव में तनाव को देखते हुए पुलिस व पीएसी तैनात की गई है।

यह है पूरा मामला
पुलिस के अनुसार ग्राम पंचायत फतेहपुर के रहने वाले सत्य प्रकाश दुबे के भाई साधु दुबे ने कुछ दिन पहले अपने हिस्से की करीब 10 बीघा भूमि गांव के दूसरे टोले के रहने वाले पूर्व जिला पंचायत सदस्य प्रेमचंद यादव को बेच दी थी। भूमि बेचने के बाद वह प्रेमचंद यादव के घर रहते थे। तीन माह पहले साधु दुबे गुजरात चले गए। भूमि को लेकर काफी दिनों से विवाद चल रहा था। सोमवार की सुबह करीब 7:00 बजे प्रेमचंद यादव बाइक पर सवार होकर दूसरे टोले पर विवादित भूमि को देखने गए थे। खेत के पास विवाद होने लगा। उसके बाद प्रेमचंद यादव सत्य प्रकाश दुबे के दरवाजे पर पहुंच गए। सत्य प्रकाश दुबे के दरवाजे पर विवाद बढ़ गया। उस दौरान सत्य प्रकाश दुबे व अन्य ने मिलकर प्रेमचंद यादव को ईंट से मारकर हत्या कर दी। हालांकि गांव के लोगों ने बीच बचाव करने की कोशिश की।

एक की हत्या के बाद बौखलाए परिवार ने पांच लोगों को दी दर्दनाक मौत 

घटना की जानकारी प्रेमचंद यादव के घर वालों को हुई। दूसरे टोले से ललकारते हुए प्रेमचंद यादव के घर के लोग सत्य प्रकाश दुबे के दरवाजे पर पहुंचे। सभी लोग घर में दरवाजा बंद कर छुप गए थे लेकिन आक्रोशित लोग दरवाजा तोड़कर घर के अंदर घुस गए। घर में सभी की बारी-बारी से धारदार हथियार से हमला कर हत्या कर दी। मृतकों में एक ही परिवार के पांच लोग शामिल हैं। इनमें दंपति सत्य प्रकाश दुबे (54) और किरन दुबे (52) के अलावा उनकी दो पुत्री सलोनी (18) और नंदिनी व पुत्र गांधी (15) शामिल हैं। अब तक इस हत्याकांड पर दो लोगों को गिरफ्तार किया गया है। इस दौरान प्रकाश दुबे के पुत्र अनमोल दुबे घायल हो गए, जिन्हें मेडिकल कॉलेज देवरिया में भर्ती कराया गया है। घटना की सूचना मिलते ही स्थानीय रुद्रपुर पुलिस में फोर्स पहुंची तब तक हमलावर भाग चुके थे। उसके बाद पुलिस अधीक्षक संकल्प शर्मा एवं जिलाधिकारी अखंड प्रताप सिंह मौके पर पहुंचे। घटनास्थल का जायजा लिया।

जिलाधिकारी अखंड प्रताप सिंह ने बताया कि भूमि विवाद के चलते 06 लोगों की मृत्यु हुई है। घटना के पीछे भूमि विवाद है, लेकिन भूमि विवाद से संबंधित सभी मामलों का निपटारा हो गया था। रंजिश चल रही थी। अभी तत्काल कुछ बताना संभव नहीं है मामले की छानबीन की जा रही है। इस मामले में दो लोगों को गिरफ्तार किया गया है।


फतेहपुर गांव पहुंचे कमिश्नर एवं आईजी
फतेहपुर गांव में 06 लोगों की हत्या की सूचना मिलने के बाद गोरखपुर से कमिश्नर अनिल ढींगरा एवं आईजी के रविंद्र गौड मौके पर पहुंचे एवं घटनास्थल का जायजा लिया।


यह है घटना की वजह
ग्राम पंचायत फतेहपुर के लेहड़ा टोला के रहने वाले साधु दुबे अपनी भूमि गांव के दूसरे टोले के रहने वाले पूर्व जिला पंचायत सदस्य प्रेमचंद यादव को बेचकर उसके घर रहते थे। इसका विरोध साधु के भाई सत्य प्रकाश दुबे कर रहे थे। उसी को लेकर काफी दिनों से विवाद चल रहा था लेकिन प्रेमचंद यादव की दबंग प्रवृत्ति के चलते सत्य प्रकाश दुबे दबते थे लेकिन कागजी कार्रवाई में पीछे नहीं रहे हर जगह अपना पक्ष रखते रहे। यही विवाद चल रहा था।

पुलिस छावनी में तब्दील गांव

घटना की सूचना मिलते ही आसपास के गांव के हजारों लोग घटनास्थल पर पहुंच गए। गांव के चारों तरफ पुलिस फोर्स तैनात कर दी गई है।

विवादित भूमि खरीदता था प्रेमचंद

घटना के बारे में बताया जा रहा है कि पूर्व जिला पंचायत सदस्य प्रेमचंद यादव दबंग प्रवृत्ति का था। वह विवादित भूमि खरीदता था। उसी का यह परिणाम है।

0 Comments

Leave A Comment

Don’t worry ! Your email address will not be published. Required fields are marked (*).

Get Newsletter

Advertisement